हरी नाम नही तो जीना क्या (Hari Naam Nahi To Jeena Kya Lyrics )

हरी नाम नही तो जीना क्या राजन जी महाराज लिरिक्स 
Hari Naam Nahi To Jeena Kya Bhajan Lyrics in hindi Rajan ji maharaj


अमृत है हरी नाम जगत में

इसे छोड़ विषय विष पीना क्या 

हरी नाम नही तो जीना क्या 


काल सदा अपने रस डोले 

ना जाने कब सिर चढ़ बोले 

हरी का नाम जपो निसवासर 

इसमें अब बरस महिना क्या 

हरी नाम नही तो जीना क्या 


तीरथ है हरी नाम तुम्हारा  

फिर क्यों फिरता मारा मारा 

अंत समय हरी नाम ना आवे 

तो काशी और मदीना क्या 

हरी नाम नही तो जीना क्या 

इसे भी पढ़े :आज मिथिला नगरिया निहाल सखिया राजन जी महाराज 

भूषण से सब अंग सजावे 

रसना पर हरी नाम ना आये 

देह पड़ी रह जाये यही पर 

फिर कुंडल और नगीना क्या 

हरी नाम नही तो जीना क्या 


अमृत है हरी नाम जगत में

इसे छोड़ विषय विष पीना क्या 

हरी नाम नही तो जीना क्या |


Hari naam hai amrit jagat mein lyrics in english by Rajanji mahraj

Hari naam hai amrit jagat mein
Isse chhod vishay vish peena kya?
Hari naam nahi toh jeena kya?

Kaala sada apne ras dole
Na jaane kab sir chadh bole
Hari ka naam japo niswaser
Ismein ab bars mahina kya?
Hari naam nahi toh jeena kya?

Tirth hai Hari naam tumhara
Phir kyun firta mara mara?
Ant samay Hari naam na aave
Toh Kashi aur Madina kya?
Hari naam nahi toh jeena kya?

Bhushan se sab ang sajaave
Rasna par Hari naam na aaye
Deh padi rah jaaye yahi par
Phir kundal aur nagina kya?
Hari naam nahi toh jeena kya?

Hari naam hai amrit jagat mein
Isse chhod vishay vish peena kya?
Hari naam nahi toh jeena kya?

Leave a Comment