आरंभ कीजिए, प्रारंभ कीजिए -Aarambh Kijiye Prarambh Kijiye

 

आरंभ कीजिए, प्रारंभ कीजिए भजन लिरिक्स राजन जी महाराज 

Aarambh Kijiye Prarambh Kijiye Bhajan Lyrics in hindi Rajan ji maharaj

 

आरंभ कीजिए, प्रारंभ कीजिए

आरंभ कीजिए, प्रारंभ कीजिए,

त्रैलोक्य पूज्य है राम नाम, शुभारंभ कीजिए,

त्रैलोक्य पूज्य है राम नाम, शुभारंभ कीजिए,

आरंभ कीजिए, प्रारंभ कीजिए,

त्रैलोक्य पूज्य है राम नाम, शुभारंभ कीजिए,

 

इसे भी पढ़े :करुणा निधान रउवा जगत के दाता हईं राजन जी महाराज लिरिक्स 

सीताराम के जाप से, पाप पूंज हो नष्ट जी

सीताराम के जाप से, पाप पूंज हो नष्ट जी

सीताराम के जाप से, पाप पूंज हो नष्ट जी

सीताराम के जाप से, पाप पूंज हो नष्ट जी

लौकिक पारलौकिक त्रिबिध ताप हो नष्ट जी

लौकिक पारलौकिक त्रिबिध ताप हो नष्ट जी

आरंभ कीजिए, प्रारंभ कीजिए,

आरंभ कीजिए, प्रारंभ कीजिए,

संग जानकी जगदंब,  शुभारंभ कीजिए,

आरंभ कीजिए, प्रारंभ कीजिए

आरंभ कीजिए, प्रारंभ कीजिए

त्रैलोक्य पूज्य है रामनाम शुभारंभ कीजिए,

त्रैलोक्य पूज्य है रामनाम शुभारंभ कीजिए,

 

ये भी पढ़े : मानव तू है मुसाफिर लिरिक्स (राजन जी महाराज)

 

ईशन के हैं ईश, महाराजा राजधिराज जी

ईशन के हैं ईश, महाराजा राजधिराज जी

दीनबंधु वो कृपासिंधु पतितों का रखते लाज जी

आरंभ कीजिए प्रारंभ कीजिए

तजि काम क्रोध मद लोभ दंभ शूभारंभ कीजिए

आरंभ कीजिए प्रारंभ कीजिए

त्रैलोक्य पूज्य है रामनाम शुभारंभ कीजिए

 

कोटि मनोज लजाव निहारे रघुकूल राजदूलारे

कठिनभुमि कोमल पदगामी राजीव लोचनप्यारे

आरंभ कीजिए प्रारंभ कीजिए

शिकारीनाथ अवलंब किए शुभारंभ कीजिए

आरंभ कीजिए प्रारंभ कीजिए

त्रैलोक्य पूज्य है रामनाम शुभारंभ कीजिए||

 

Leave a Comment