देवकी के कोखि सँ जनमल कृष्ण कन्हैया

देवकी के कोखि सँ जनमल कृष्ण कन्हैया रे सोहर लिरिक्स 

देवकी के कोखि सँ जनमल कृष्ण कन्हैया रे
ललना रे विधि के लिखल संजोग यशोदा भेली मैया रे 

जेहल मे जननी के नोर देवकी के लाल दूर गेल रे
ललना रे सोचि क  केलथि संतोख नेना’के प्राण बचि गेल रे 

पुलकित नन्द के दुआरि जनम लेल बालक रे
ललना रे देखू सखी रूप निहारि देखथि मैया अपलक रे 

दीनघर बसन के दान कि संगे अन्न द्रव दान रे
ललना रे गोकुल  मे नवल विहान बढ़ल नन्द-वंश मान रे 

सुनू सुनू माय यशोदा जीबहु पूत तोहर रे
ललना रे पलना’मे डोलथि कन्हैया रचल शिव सोहर रे 

अइसन मनोहर मंगल मूरत (सोहर) Rajanji Maharaj
धनि धनि चैत महिनवा के सुघर समयिया सोहर राजन जी महाराज
प्रगट भये श्री राम हो रामा चैत महिनवा (सोहर)
अयोध्या में राम जी जन्मले हो रामा, चैत महीनवा लिरिक्स राजन जी महाराज ( राम जन्म गीत )
जन्मे अवध रघुरइया हो, सब मंगल मनावो राम जन्म बधाई गीत (राजन जी महराज)
कौशल्या के गोद खिलौना हो, कहूँ नजर ना लागे (रामजन्म सोहर )-राजन जी महराज
आँगने में बधइया बाजे (राम जन्म -गीत )

Leave a Comment